नई दिल्ली: NEET 2019: मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने स्वास्थ्य मंत्रालय की सिफारिश के बाद नीट मेडिकल (NEET) और डेंटल प्रवेश परीक्षा साल में दो बार और केवल ऑनलाइन मोड में कराने का विचार छोड़ दिया है. पिछले महीने मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावडेकर ने घोषणा की थी कि नवगठित नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) साल में दो बार राष्ट्रीय योग्यता सह प्रवेश परीक्षा के साथ ही इंजीनियरिंग कॉलेजों में दाखिले के लिए संयुक्त प्रवेश परीक्षा-मुख्य का आयोजन करेगी. उन्होंने घोषणा की थी कि एनटीए द्वारा ली जाने वाली सभी परीक्षा कंप्यूटर आधारित होगी.


स्वास्थ्य मंत्रालय ने इसके बाद मानव संसाधन विकास मंत्रालय को पत्र लिखकर साल में दो बार नीट (NEET 2019) के आयोजन को लेकर चिंता प्रकट किया, क्योंकि इस तरह के परीक्षा कार्यक्रम से छात्रों पर अतिरिक्त दबाव बन सकता है, ग्रामीण इलाके में रहने वाले छात्रों को लेकर भी चिंता प्रकट की गई कि सिर्फ ऑनलाइन मोड में परीक्षा होने से उन्हें नुकसान हो सकता है. अधिकारी ने बताया कि स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के आग्रह के बाद नीट परीक्षा पैटर्न में बदलाव के पूर्व के बयान के विपरीत अब यह कागज-कलम के जरिए और उतनी ही भाषाओं में कराने का फैसला किया गया जैसा पिछले साल आयोजन हुआ था.

NEET UG 2019
पेन व पेपर एग्जाम (सिंगल सेशन में)
रजिस्ट्रेशन - 1 नवंबर से 30 नवंबर, 2018
एडमिट कार्ड डाउनलोड कर सकेंगे - 15 अप्रैल, 2019
परीक्षा तिथि- 5 मई 2019
रिजल्ट की तिथि - 5 जून, 2019

Comment

Our Products

Engineering Entrance information Counselling
₹ 1000
Psychological Counselling
₹ 500
VIT-SRM-MANIPAL-KIIT-PESAT Rank Counselling
₹ 5000
Seminar and Workshops
₹ 25000
Get Free Exam/Admission
Notification

News & Notification