Vikas Kumar Writes on Facebook While posting this article -

 

EE main जितना महत्पूर्ण है उतना ही उपेक्षित रह जाता है इसकी तैयारी पर जितना  फोकस और कमांड  करना चाहिए वो नहीं कर पाते हैं 
 
 
मैं  पिछले 5 वर्ष के आंकड़ों के आधार पर  पुरे विश्वास और तर्क के आधार पर कहता हूँ रांची में तैयारी कर 99 % विद्यार्थियों को JEE एडवांस्ड  से ज्यादा जोर JEE main पर जोर देना होगा -नहीं तो आई आई टी की मृगतृष्णा में NIT के टॉप 5 कॉलेज नहीं मिलेंगे !! और ये बात सभी शहर के बच्चों के लिए लागू है और जो 50 से 150 बच्चों को पूरा जोर  एडवांस्ड पर देने से सभी मुकाम रास्ते पर मिल जायेगी 
 
रांची  15000 + परीक्षार्थियों में जनरल केटेगरी में  टोटल 100 बच्चे भी JEE advanced 5000 रैंक में नहीं आते हैं। exact आंकड़ा हमलोग जनवरी में जारी करेंगे !! काम 10000 रैंक से भी चलेगा -कुछ न कुछ मिलेगा पर उस स्थिति में JEE -main को नजरंअदाज न करें -
 
 
और बाकी 150 - 300 बच्चे को पूरा ध्यान एडवांस्ड पर लगाना चाहिए पर आप किस केटेगरी में हैं ये आपको अपने परफॉरमेंस के आधार पर तय करना होगा 
 
पढ़ें इस आर्टिकल को और जानें std xI evam xii का 2017 का वेइटज - !! 

 

8 अप्रैल को होगा JEE main

ग्यारहवीं एवं बारहवीं दोनों के सिलेबस को साधने से मिलेगी सफलता 

 

इंजीनियरिंग की सबसे बड़ी परीक्षा JEE main ८ अप्रैल को पेन एंड पेंसिल मोड में होगी।  

 

JEE main से क्या होता है 

 

१. ये JEE एडवांस्ड के लिए क्वालीफाइंग परीक्षा है। इस वर्ष २ लाख २४ हजार विद्यार्थियों को एडवांस्ड में बैठने का मौका मिलेगा। २०१७ में २ लाख २० हजार , २०१६ में २ लाख , २०१३-२०१५ तक १.५० लाख लोगों को मिला था 

 

२. इस परीक्षा के आधार पर एन  आई टी , ट्रिपल आई टी एवं जी एफ टी आई जैसे -बी आई टी मेसरा में दाखिला मिलेगा 

 

३. इस परीक्षा के रैंक के आधार पर कई डीम्ड यूनिवर्सिटी-जैसे डी टी यू ,जामिया  एवं  कई राज्यों के आल इंडिया कोटा के सीटों पर दाखिला मिलता है 

 

४. JEE main के पेपर २ के आधार पर आर्किटेक्चर में नामांकन मिलता है 

 

क्या है मार्किंग पैटर्न - 2013 से 2017 

 

कुल प्रश्न - 90 ,  कुल अंक - 360 . 

एक प्रश्न पर ४ अंक , गलत होने पर माइनस 1 

 

फिजिक्स - 30 प्रश्न 

केमिस्ट्री - ३० प्रश्न 

 मैथ्स - ३०  प्रश्न 

 

क्या था 2017 का पेपर एनालिसिस – Std XI  Vs XII

  Total Questions Std XI-Qstn Std XII-Qstn Std XI-Marks Std XII-Marks % -XI %XII
Physics 30 14 16 56 64 46.67 53.33
Chemistry 30 13 17 52 68 43.33 56.67
Maths 30 13 17 52 68 43.33 56.67
Total 90 40 50 160 200    

 

 


तीन साल - JEE main का वेइटज - Std XI  Vs XII

Weightage of Class XI and XII in JEE Main

 

2015

2016

2017

XI

43.33%

51.11%

44.40%

XII

56.67%

48.89%

55.60%

 

अभिवावकों के लिए सुझाव -

 

१. जो बारहवीं की बोर्ड परीक्षा दे रहे हैं - उन्हें स्पष्ट निर्णय लेना होगा -अगर JEE एडवांस्ड नहीं सम्हल रहा तो सिर्फ JEE main पर फोकस करैं और JEE main    पर भी कमांड नहीं हो रहा तो सिर्फ बोर्ड पर फोकस करैं -

 

२. अपने संस्थान के टेस्ट सीरीज को पूरी गंभीरता से ले। और अपना अस्सेस्मेंट इस आधार पर भी करैं की JEE main के 360 के अंक में उन्हें अभी की तयारी के आधार पर कितना अंक मिलेगा। 

 

३.  कई बार विद्यार्थी बहुत मेहनत के बाद भी JEE main में इतने अंक नहीं ला पाते हैं जिससे एन आई टी में दाखिला मिले इसकी कई वजह होगीं पर प्रमुख है std xi का सही से रिवीजन नहीं होना 

 

4. एक विचारधारा  है की JEE एडवांस्ड की तयारी ठीक से करने से JEE main और बोर्ड परीक्षा अच्छी जायेगी। ये सही है पर रांची के १५००० परीक्षार्थियों में अधिकतम सिर्फ 150 विद्यार्थियों यानि %  के लिए ही उपयुक्त है  है - बाकी को अलग रणनीति अपनानी होगी -

 

 

Comment

Our Products

SMS Alert
₹ 200
VIT-SRM-MANIPAL-KIIT-PESAT Rank Counselling
₹ 5000
FOUNDATION PRE COUNSELLING
₹ 2500
ENGINEERING
₹ 5000
Get Free Exam/Admission
Notification

News & Notification