Article by Vikas Kumar- published in Prabhat Khabar Ranchi Editon on 20th Nove

JEE Advanced के लिए toppers का लक्ष्य   हो आल इंडिया रैंक 300 से 3000 

जरुरी है Goal सेटिंग , Goal  evaluation एवं goal रीसेटिंग

 

अब जब JEE एडवांस्ड की परीक्षा में ६ महीने रह गए है आवश्यकता है की विद्यार्थी अपने गोल  का evaluation  और अपने अभी के परफॉरमेंस के आधार पर गोल रीसेटिंग कर लें 

 

किन किन आधार पर हो Goal  रीसेटिंग 

 

१. अकादमिक परफॉरमेंस  - जो विद्यार्थी पिछले २ से चार वर्षों से तैयारी कर रहे हैं - उन्हें काल्पनिकता और संभावनाओं के कयास से बाहर निकलकर आज के परफॉरमेंस पर अपना लक्ष्य तय करना चाहिए। 

 

. टेस्ट परफॉरमेंस- अपने संस्थान के सभी टेस्ट सीरियसली दें , अच्छा रैंक आने पर ओवर कॉन्फिडेंट और कम स्कोर आने पर निराश न हो - आल इंडिया रैंक टॉप  10 आने वाले 100-900  रैंक तक सकते हैं , आल इंडिया रैंक 1000 -3000 लाने वाले परफॉरमेंस रिपीट भी करते हैं जबकि 50- 90  प्रतिशत  विद्यार्थी 5000 से 50000 रैंक तक भी जाते हैं 

 

३. आई आई टी के क्लोजिंग रैंक के आधार पर -

 

IIT Closing Rank- 2017-Round 7

 

 

CSE

EE

Rank 1*

IIT-Bombay

AIR-62

AIR-266

Rank 2

IIT-Delhi

AIR-154

AIR-416

Rank 3

IIT-Madras

AIR-265

AIR-641

Rank 4

IIT-Kanpur

AIR-206

AIR-816

Rank 5

IIT-Kharagpur

AIR-262

AIR-1174

Rank 10

IIT-Indore

AIR 1500

AIR-3770

Last Ranked

IIT-Bhilai

AIR 5940

AIR-8242

 

*Based on Closing Rank

   

 

 

 

4 आई आई टी में अपने शहर के परफॉरमेंस के आधार पर -

Ranchi का 2017 का general Category result

बेस्ट रैंक -                                                      AIR 49 

बेस्ट रैंक -गर्ल्स -                                        AIR 1122

 बेस्ट रैंक 12th पास आउट -                    AIR 2000 +

टॉप १००० में कुल विद्यार्थी -                   10 

टॉप 1000 में कुल लड़कियां -                       1 

टॉप 2000 में कुल विद्यार्थी -               अधिकतम 20 

टॉप 5000 में कुल विद्यार्थी -               अधिकतम 50 

 

 

अभिवावकों के लिए सुझाव 

 

१. टॉप रैंक लाने के लिए विद्यार्थी के साथ साथ अभिवावक का भी तनाव रहित होना एवं शिक्षक पर पूरा भरोसा करना बहुत जरुरी है 

 

2 .अभी तक जो ट्रेंड है विद्यार्थी JEE advanced में टॉप 5000 में हैं वे ही JEE main के टॉप रैंक में अधिकांशतः वही  रहते हैं। इसलिए विद्यार्थी जो एडवांस्ड की दौड़ में आगे हैं उन्हें न उसका लाभ है न हानि पर वैसे विद्यार्थी जो एडवांस्ड में १०००० रैंक से ज्यादा पर लैंड करेंगे उन्हें main पर फोकस करना चाहिए 

 

३. पढ़ते सभी खूब हैं -रिवीजन स्ट्रेटेजी और exam स्किल एवं स्ट्रेस को सम्हालने के क्षमता विद्यार्थी के लिए विनिंग एज होता है - std xi का रिवीजन एवं चैप्टर weightage के हिसाब से पढाई मदद करेगी 

 

४. बच्चे जिस तरीके से पढ़ना चाहते हैं पढ़ने दें सिर्फ सही खाने और एनर्जी ड्रिंक की व्यवस्था पर ध्यान दें 

 

५. अगर टॉप रैंक में रहना है तो मोबाइल में इंटरनेट एक स्पीड ब्रेकर है 

 

 

 

 

 

Comment

Our Products

Seminar and Workshops
₹ 25000
ENGINEERING
₹ 5000
General Psychological Counselling
₹ 5000
Career Aptitude Test
₹ 2500
Get Free Exam/Admission
Notification

News & Notification