नेशनल टेस्टिंग एजेंसी द्वारा कैलेंडर घोषणा के बाद विद्यार्थियों के लिए जरुरी हो गया है है की अपनी परीक्षा तैयारी की रणनीति एवं बोर्ड परीक्षा के लिए अपनी  स्ट्रेटेजी को बना लें - आखिरी दिन का इंतजार न करें . जोसा काउन्सलिंग से JEE एडवांस्ड के माध्यम से २३ आई आई टी के अलावा - आई आई एस टी -आई आई एस ई आर -एवं अन्य संस्थानों में भी दाखिला मिलता है। 

 

 

JEE Advanced 2019 वालों के लिए

 

आई आई टी में १२००० सीट है - झारखण्ड से 400 -450 के बीच बच्चे हर साल जाते हैं - जिसमे सफल विद्यार्थी रांची -बोकारो - जमशेदपुर -धनबाद एवं अन्य ज़िलों  के जनरल- ओ बी सी , एस सी एवं एस टी शामिल होते हैं -

1. इसलिए टॉप रैंकर्स  पुरे मनोयोग से लगे रहें -

2. बोर्डेर लाइन स्टूडेंट्स JEE main पर भी  फोकस करें और 

३. Low परफॉर्मर्स सिर्फ बोर्ड की तैयारी करें और क्वेश्चन बैंक को समझने का प्रयास करें 

४. जनरल केटेगरी में रांची में JEE Advanced में आल इंडिया रैंक १००० के अंदर १० विद्यार्थी आते हैं  और 5000 के अंदर अधिकतम 50  - 10th रंकड आई आई टी इंदौर  में कंप्यूटर साइंस का क्लोजिंग रैंक के लिए १२०० एवं इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग का क्लोजिंग रैंक 3400 था  रैंक जरुरी है और किसी भी आई आई टी में किसी भी ब्रांच के लिए लड़कों को १२००० रैंक जरुरी है -इसलिए अपना सही मूल्याङ्कन कर अपनी स्ट्रेटेजी बनायें - किसी के कहने से मोतिविटेड और किसी के टफ बताने से हतोत्साहित न हो -

 

5 . रांची में JEE एडवांस्ड २०१८ में आल इंडिया रैंक ५००० में लड़कियां हैं।  tenth ranked  आई आई टी- इंदौर में लास्ट क्लोजिंग रैंक कंप्यूटर साइंस में 2200 है , इलेक्ट्रिकल में 5600  और   किसी भी आई आई टी में किसी भी ब्रांच के लिए क्लोजिंग रैंक 16000 है - पहले से सम्भावना बेहतर है - तो कई को नए ऊर्जा से एडवांस्ड पढ़ना चाहिए और कई को अपनी स्ट्रेटेजी को पुनर्विचार करना होगा 

 

6. Top 1000 रैंक वालों को XIIth का syallabus सामान्यतः अक्टूबर में खत्म हो जाता है और टॉप १०० वाले xi के फाइनल एग्जाम के बाद तक  या उससे पहले ख़त्म कर लेते हैं - अपवाद हर चीज का होता ही 

7 हर एडवांस्ड टोप रैंकर  बोर्ड में अच्छा करता है पर मेजोरिटी बच्चे सही समय पर syallabus और रिवीजन  पूरा नहीं होने पर दोनों जगह परेशां रहते हैं 

8. XI में कम नंबर आने से हतोत्साहित हों- पुरे ताकत से लगें  पर वास्तविकता से इंकार भी न करें

 

JEE Advanced २०२० के लिए

1. Xth में 90 % लेकर अति उत्साहित न रहे और कम नंबर आने के कारण अपने को रेस से बाहर महशूस न करें 

२. हाफ इयरली परीक्षा सितम्बर में होगी इसके लिए अभी से फोकस कर लें अन्यथा लास्ट मोमेंट में शुरू करेंगे तो दिक्कत होगी 

३. हाफ इयरली में अच्छा नंबर लाने से आई आई टी की तैयारी ख़राब नहीं होती है -सवाल टाइम मैनेजमेंट एवं सेल्फ मैनेजमेंट का है 

४। 

 

अच्छा करने के लिए  5  महत्वपूर्ण फैक्टर है

 

१. बारहवीं के साथ XI वीं का रिवीजन 

2 . स्कूल एग्जाम - और कोचिंग के एग्जाम का सही संतुलन 

३. सेल्फ स्टडी के लिए अपनी स्ट्रेटेजी 

४. मेन्टल स्ट्रेस मैनेजमेंट और सेल्फ मैनेजमेंट 

5 एग्जाम टेम्परामेंट एवं एग्जाम स्ट्रेस मैनेजमेंट 

 

 

 

 

 

 

क्या था JEE एडवांस्ड २०१८ का एनालिसिस 

JEE advanced कुल मार्क्स 

 

२०१३ – 360, २०१४-360,२०१५ – 504,

२०१६ – 372, २०१७ -366, २०१८ - 360

 

दो महत्वपूर्ण बिंदु है 

 

१.std XII के साथ  XI की कम्पलीट तैयारी होगी तभी सफलता मिलेगी 

२. हर साल के पैटर्न की सही समझ और unpredictibility की सही समझ जरुरी है 

 

Std XI vs Std XII Weightage Analysis

 

 

 

 

 

 

 

 

Std 11

 

Std 12

 

Total

 

 

No of
Questions

Total
Marks

No of
Questions

Total
Marks

No of
Questions

Total
Marks

Physics

22

73

14

47

36

120

Chemistry

7

23

29

97

36

120

Mathematics

15

49

21

71

36

120

Grand Total

44

145

64

215

108

360

 

Std XI Analysis-Paper wise

 

Paper 1

Paper 2

Total

 

 

Qstn

Marks

Qstn

Marks

Qstn

Marks

Physics

13

43

9

30

22

73

Chemistry

3

10

4

13

7

23

Maths

10

32

5

17

15

49

Total

26

85

18

47

44

145

 

 

 

 

 

 

अभिवावक के लिए

1. हर अभिवावक को ३० सितम्बर तक एक स्पष्ट बोध होना चाहिए की बेस्ट पॉसिबल रैंक और लीस्ट पॉसिबल रैंक एडवांस्ड में क्या होगा और उसके लिए स्ट्रेटेजी क्या है और विकल्प क्या है 

२. हाफ इयरली में ख़राब नंबर लाकर अगर बच्चा कहे एडवांस्ड की तैयारी के कारण हुआ तो ये अर्ध सत्य है - स्कूल और कोचिंग में डिफरेंस होता है पर हर सफल बच्चा उसको मैनेज करता है 

 

३। XI की हाफ इयरली में दसवीं की तुलना में ५ से १५ % कम आना सामान्य है पर अपनी पूरी फोकस नहीं रखना के लिए तर्क ढूंढ़ना न ठीक नहीं 

4. जनरल-ओ बी सी  केटेगरी में शायद ही कोई विद्यार्थी होगा जिसे पीसीएम में ९० % नहीं आता है इसलिए बारहवीं के हाफ इयरली में कम नंबर लाना आई आई टी की सफलता का चिन्ह नहीं हो सकता 

 

5. 2019 एस्पिरेंट्स बच्चे को कारन ढूंढने का अवसर न दें।  हाफ इयरली में फुल एनर्जी लगायें और परफॉरमेंस के आधार पर गोआल सेटिंग और रेसेट्टिंग करें -

 

6 टॉप 1000 रैंक वाले बच्चे toppers टिप फॉलो करें बाकी शिक्षक -मार्गदर्शक के साथ बैठ कर अपनी स्ट्रेटेजी बनायें 

 

JEE 2019 Schedule

 

JEE एडवांस्ड - घोषणा नहीं - मई के थर्ड संडे को संभावित

 

Official website- http://nta.ac.in

Comment

Our Products

Std VIII- Std IX Career Information Counselling
₹ 500
JOSAA -IIT -NIT RANK COUNSELLING
₹ 5000
JEE Main Multi State Rank Counselling
₹ 5000
IIT Pre Counselling
₹ 5000
Get Free Exam/Admission
Notification

News & Notification