९९ % विद्यार्थियों के लिए JEE main पर ज्यादा फोकस जरुरी 

 

आई आई टी सबकी मंजिल है। रांची एवं झारखण्ड का रिजल्ट अच्छा रहता है पर हर विद्यार्थी को अपनी वर्तमान तैयारी के आधार पर लक्ष्य तय करें 

 

JEE main जितना महत्पूर्ण है उतना ही उपेक्षित रह जाता है. इसकी तैयारी पर जितना फोकस और कमांड करना चाहिए वो विद्यार्थी नहीं कर पाते हैं . अभिवावककई बार समझ नहीं पाते. बच्चे जानते हैं पर खुल कर एडमिट नहीं करते हैं

 

क्यों है JEE main महत्वपूर्ण

99 % विद्यार्थियों को JEE एडवांस्ड से ज्यादा जोर JEE main पर देना होगा -नहीं तो आई आई टी की मृगतृष्णा में NIT के टॉप 5 कॉलेज में टॉप ब्रांच में दाखिला नहीं मिलेगा !! और ये बात सभी शहर के बच्चों के लिए लागू है .

 

 -

  1. यह JEE एडवांस्ड का प्री क्वालीफाइंग है.Competitive एग्जाम में परफॉरमेंस का बेसिक इंडेक्स है 
  2. इसके आधार पर जोसा काउन्सलिंग से NIT-IIIT-GFTIs में सीधे नामांकन मिलता है 
  3. इसके आधार पर आल इंडिया कोटा के तहत DTU -जामिया -एवं देश के विभिन्न राज्यों में दाखिला मिलता है  
  4. रांची के 15000 + परीक्षार्थियों में जनरल केटेगरी में टोटल 100 बच्चे भी JEE advanced 5000 रैंक में नहीं आते हैं। और जितने आते हैं - किसी भी प्रकार से सफलता का ratio कम नहीं है .काम 10000 रैंक से भी चलेगा -कुछ न कुछ मिलेगा पर उस स्थिति में JEE -main को नजरंअदाज न करें -
  5. बाकी 150 - 300 बच्चे को पूरा ध्यान एडवांस्ड पर लगाना चाहिए .रांची के 50 से 150 बच्चों को पूरा जोर एडवांस्ड पर देने से सभी मुकाम रास्ते पर मिल जायेगी पर आप किस केटेगरी में हैं ये आपको अपने परफॉरमेंस के आधार पर तय करना होगा
  6. 1 % विद्यार्थी JEE एडवांस्ड की तैयारी करेंगे तो JEE main और बोर्ड परीक्षा भी अच्छी जायेगी पर ९९ % को तरीका बदलना ही होगा 
  7. JEE main का स्तर JEE एडवांस्ड से नीचे होता है -एडवांस्ड के लिए कुछ चैप्टर्स का कमांड किया जा सकता है पर सबका आसानी से नहीं। जबकि थोड़ा ध्यान देने पर main पूरा कमांड में आ जाता है 
  8. JEE main में ११वीं के प्रश्न पूछे जाते हैं -अलग अलग विषयों में 35 से ५१ % तक -उसपर कमांड करने के लिए भी विद्यार्थी को पूरा समय लगता है। एडवांस्ड के लेवल अचीव करने में ये भी छूट जाता है 
  9. २०१३ एवं २०१४ में १५००० से ज्यादा विद्यार्थी JEE main में बैठे थे और एडवांस्ड क्वालीफाई किये थे क्रमशः 266 एवं 317. आंकड़ों का प्रतिशत 1.7 और 2 .1.  २०१४ में JEE ने 27152 को क्वालीफाई घोषित किया।    
  10. . JEE main में जो जनरल केटेगरी में लास्ट क्वालिफाइड होगा उसका रैंक २०१३-२०१५ में ५० हजार से ७५ हजार , २०१६ में ७५ हजार से १ लाख , 2017 में ९० हजार से १ लाख दस हजार होगा। इससे किसी भी NIT में दाखिला नहीं मिलेगा। JEE main पर पूरा फोकस करना होगा 

 

JEE फैक्ट – 

JEE  Fact Ranchi

 

Appeared in JEE Main

Qualified in JEE Advanced

%  of Adv qualified in Ranchi

last Rank of qualified Student

Last Rank Admitted in IIT

2013

15000+

266

1.7

20834

7393-BArch-

2014

15000+

317

2.1

27152

9290-BArch

2015

Offficial data not released

26456

9553-BArch

2016

Offficial data not released

36566

10422-BArch

 

 

 

 

 

 

 

II

 

T  

IIT फैक्ट

 

JEE Advanced में सिर्फ क्वालीफाई करना पर्याप्त नहीं  में,किसी भी आई टी के अच्छे ब्रांच के लिए  ब्रांच के  3000 -5000 रैंक में रहना होगा 

१. टॉप  5 आई आई टी में में CSE  के लिए टॉप ३०० रैंक-आई  आई टी खरगपुर  - AIR 266 

२. टॉप  १० आई आई टी में CSE के लिए आल इंडिया रैंक 1000 - आई आई टी हैदराबाद - AIR 975 , इंदौर- 1500 

३. किसी भी आई आई टी में CSE के लिए के लिए आल इंडिया रैंक 5000 -आई आई टी -पल्लकड़ -AIR 4962 , भिलाई - AIR 6687

 

NIT  फैक्ट –

JEE main में सिर्फ क्वालीफाई करना पर्याप्त नहीं अच्छे नंबर लाने पर ही टॉप NIT के टॉप ब्रांच मिलेंगे 

१. टॉप ५ NIT में CSE के लिए आल इंडिया रैंक ५००० के अंदर - NIT नागपुर - AIR 5901 , जयपुर - 5931 

२. टॉप १० NIT में CSE के आल इंडिया रैंक 10000 के अंदर- NIT दिल्ली -7816 , भोपाल -7949  

३. किसी भी एन आई टी में cse के लिए आल इंडिया रैंक 30000 की अंदर -NIT अगरतल्ला -20616 , मणिपुर - 31695 , मिजोरम - 32279 

 

Comment

Our Products

SMS Alert
₹ 200
JEE Main Multi State Rank Counselling
₹ 5000
Std VIII- Std IX Career Information Counselling
₹ 500
WBJEE-COMEDK-Top Private University-JEE Main Multi State Rank Counselling Program
₹ 7500
Get Free Exam/Admission
Notification

News & Notification