फिजिक्स को आसान बनाने वाले प्रोफेसर एच.सी.वर्मा किसी पहचान की मोहताज नही है। इन्होंने अपने किताब से फिजिक्स को सभी छात्रों तक पंहुचाया और अपनी किताब की मदद से लाखों छात्रों को इंजीनियर और डॉक्टर बनाया। आईआईटी कानपुर के रिटायर्ड प्रोफेसर एच.सी.वर्मा को शिक्षा में विशिष्ट योगदान के लिए पद्मश्री सम्मान के लिए चुना गया। आईआईटी कानपुर से एमएससी करने के बाद इसी कॉलेज में एच.सी.वर्मा असिसटेंट प्रोफसर के रूप में आईआईटी कानपुर ज्वॉइन किया। इनके द्वारा लैब में किये गए करीब 600 से भी ज्यादा रिसर्च और प्रयोगों की मदद से छात्र फिजिक्स के कंसेप्ट को समझ पा रहे है तथा शिक्षकों को फिजिक्स समझाने में मदद मिलती है। इनकी लिखी किताब कंसेप्ट ऑफ फिजिक्स लाखों छात्रों की पसंद है।

 

 

बचपन मे साइंस और गणित में रुचि नही थी

प्रोफेसर एच.सी.वर्मा का जन्म बिहार के दरभंगा में हुआ। शुरुवात में पर प्रोफेसर वर्मा की साइंस में रुचि नही थी। उनके पिता शिक्षक थे जिन्होंने उन्हें पढ़ाया। पटना साइंस कॉलेज से इन्होंने स्नातक किया। स्नातक करने के बाद GATE की परीक्षा पास की और आईआईटी कानपुर से MSC किया।

 

JEE Main Percentile Vs Rank 2020

 

 

 

 

 

 

 

 

 

Important Link:-

Comment

Our Products

General Psychological Counselling
₹ 5000
Seminar and Workshops
₹ 25000
Engineering Entrance information Counselling
₹ 1000
WBJEE-COMEDK-Top Private University-JEE Main Multi State Rank Counselling Program
₹ 7500
Get Free Exam/Admission
Notification

News & Notification