2018 में फिर कंप्यूटर साइंस - आई आई टी बॉम्बे ,NIT त्रिची और ट्रिपल आई टी इलाहाबाद बना पहली पसंद !!

टॉप १०० में IIT कानपूर में एक भी नहीं, दस साल  बाद IIT खरगपुर में 1 

 

जोसा काउन्सलिंग के बाद जब सारी प्रक्रिया पूरी हो गयी तब एक  विश्लेषणात्मक अध्धयन करने के बाद ब्रांच एवं कॉलेज परेफरेंस की पूरी तस्वीर उभर कर आ रही है जो पिछले ५ साल के ट्रेंड को ही दिखा रही है 

 

ब्रांच के दृष्टि से नंबर 1 कंप्यूटर साइंस रहा है - आई आई टी हो या एन आई टी या गवर्नमेंट फंडेड टेक्निकल इंस्टिट्यूट 

 

जानिये कहाँ गए toppers 

 

 

Top 100

Top  500

Top 1000

Top 2000

% of Top 2000 Rankers

Bombay

63

167

267

429

21.45

Delhi

30

114

186

308

15.4

Madras

6

50

102

210

10.5

Kharapur

1

49

111

237

11.85

Kanpur

0

54

136

225

11.25

 

 

 

टॉप आई आई टी के कंप्यूटर साइंस का क्लोजिंग रैंक -जनरल 

 

बॉम्बे - 59

दिल्ली -100

मद्रास - 200

कानपूर -213

खरगपुर - 272

रूरकी - 416

गुवाहाटी - 554

हैदराबाद -777

वाराणसी -908

इंदौर -    1264 

 

टॉप 10  एन आई टी में क्लोजिंग रैंक 

 

त्रिची - 1140 

वारंगल- 1745 

सूरतकल -1767 

अल्लाहाबाद -3504 

राउरकेला - 3576 

कालीकट - 4822 

जयपुर - 4879 

नागपुर - 4930 

सूरत - 5917 

दिल्ली - 5932 

 

टॉप ट्रिपल आई टी में भी ट्रेंड इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी  कंप्यूटर साइंस का ट्रेंड  रहा 

 

इलाहाबाद - आई टी- 5700 

ग्वालियर - कंप्यूटर साइंस -1165 

कांचीपुरम -CSE- 15345

जबलपुर - CSE- 15888

त्रिची -CSE- 20101 

सोनीपत -CSE- 20650 

पुणे  -CSE-22427 

श्रीसिटी -चित्तूर -CSE-22525 

सूरत - CSE-24555  

कोटा -CSE- 24951

 

मुख्य हाईलाइट 

 

१. २०१८ में टॉप १०० में 63 बॉम्बे में ,  और कानपुर में एक ने भी नहीं लिया दाखिला 

२. २०१७ में टॉप १०० में बॉम्बे में ६७ २०१५ में 65 ने लिया था दाखिला-किसी ज़माने में मद्रास में टॉप १०० में ३० लेते थे नामांकन  

३. आई आई टी खरगपुर में टॉप १०० के विद्यार्थी ने १० साल बाद दाखिला लिया।  पिछली बार -२००७ में १ और 

 

४।  टॉप 500 में  रूरकी में ३६ , बी एच् यू में ३३ और  हैदराबाद में 1 

५.  टॉप १००० और २००० रैंक वाले  वाराणसी से ज्यादा गुवाहाटी में  गए 


 

6. टॉप १००० रैंक वाले गुवाहाटी ५४, रूरकी ४६, वाराणसी -37 हैदराबाद -23 और इंदौर १० गए 

7 . टॉप 2000 में रूरकी 166 , गुवाहाटी -134  वाराणसी -57 , हैदराबाद- 47 ,इंदौर २७ और रोपड़ 25 

8  . टॉप ५०० में ६ ने आई आई टी ने नहीं लिया दाखिला 

9  . टॉप १००० में 25 और टॉप  २००० में 92 ने नहीं लिया आई आई टी में दाखिला 

10 . 

 

 

अभिवावकों के लिए सुझाव 

 

१. जानिए की आपके बच्चे के स्कूल में टॉप ५०० , १००० और २००० में कितने बच्चे हैं और अपने परफॉरमेंस के हिसाब से विद्यार्थी अपना लक्ष्य तय करे और पेरेंट्स उस अनुसार विभिन्न आई आई टी को समझने का प्रयास करे 

2 बच्चे को टॉप आई आई टी के विषय में जरूर प्रेरित करे पर ऐसा माहौल न बनायें की रैंक नीचे आ जाए तो बच्चा कुण्ठाग्रसित हो जाए और अपने को गुनहगार समझे 

 

३. बच्चे को संकल्प की और बढ़ने दें और स्वयं विकल्प की लिए पूरी जानकारी और समझ हासिल करें - सिर्फ बच्चा या कुछ लोग क्या कह रहे हैं इस पर आश्रित न रहें 

 

४। टॉप रैंकर्स अपना लक्ष्य १०० से लेकर 500 तक बनायें और तैयार रहें की कई कारणों से आल इंडिया टेस्ट सीरीज से रैंक नीचे जा सकता है पर और नीचे रैंक वाले सतर्क रहें की रैंक दो गुना से १० गुना नीचे जा सकता है -

 

५। JEE एडवांस्ड के लिए  बारहवीं और बारहवीं पास १० % बच्चे पूरी तरह foussed रहें पर ९० % को JEE main और एडवांस्ड की दूरी को समझ कर अपनी पढाई और बोर्ड पर फॉक्स अलग से बनाना होगा -२० से ४० बच्चों को देखकर नहीं 

 

 

 

 

 

 

 

Comment

Our Products

Career Aptitude Test
₹ 2500
Engineering Entrance information Counselling
₹ 1000
WBJEE-COMEDK-Top Private University-JEE Main Multi State Rank Counselling Program
₹ 7500
General Psychological Counselling
₹ 5000
Get Free Exam/Admission
Notification

News & Notification